Life

सोचने वाली बात 03 : क्या ये भी अब दूसरे ही तय करेंगे कि हमारे जीने की दशा और दिशा क्या होगी !

प्यारे दोस्तों,बेहद स्वागत है आप सभी का सोच और समझ के इस नुक्कड़ पर जहाँ हम मिलते हैं बस ख़ुद ही से, अपने आप से !हाँ ! पर मैं माफ़ी चाहती हूं इतने लंबे अंतराल के बाद आपसे मिलने के लिए…. आपने देखा होगा कि अक्सर हमारे परिवार में ही ,हमारा कोई अपना ही, ऐसा …

सोचने वाली बात 03 : क्या ये भी अब दूसरे ही तय करेंगे कि हमारे जीने की दशा और दिशा क्या होगी ! Read More »

सोचने वाली बात 05 : लव यू ज़िन्दगी (Love You Zindagi)

सुनो ! खाना ठंडा हो रहा है जल्दी खाओ !ट्रेन निकलने को है, जल्दी पकड़ो भाई !ऑफ़िस नहीं जाना क्या ? उठो जल्दी उठो !कबतक सोते रहोगे ? परीक्षाएं सर पर हैं ,चलो उठो ,पढ़ाई करो !अलग करो भाई! गिला और सूखा कचरा, कचरा गाड़ी आगे निकल जाएगी!अरे! बंद करो कुकर तीन सिटी आ चुकी …

सोचने वाली बात 05 : लव यू ज़िन्दगी (Love You Zindagi) Read More »