Tag: navratri

शक्ति और सामर्थ्य | नौ दिन, नौ रातें!! और ज़रूरी नौ बातें!!

शक्ति के आगमन से सामर्थ्य आता है!सामर्थ्य के जागरण से शक्ति संचालन! नमस्कार प्यारे दोस्तों,साथियों, एक बेहद रुचिकर विषय के साथ हम बढ़ रहे हैं हमारी श्रृंखला की पूर्णता की ओर….चाहे पूजा हो, पाठ हो,…

Read More

सुख और आनंद | नौ दिन, नौ रातें!! और ज़रूरी नौ बातें!!

सुख है तो यही है कि दे सकें किसी को कुछ!और पाने के लिए आनंद से अधिक न कुछ! जी हां प्यारे दोस्तों,न पेड़ सूखते हैं अपने फल फूल लुटाकर और न नदियां ही सूखती…

Read More

भाव और संवाद | नौ दिन, नौ रातें!! और ज़रूरी नौ बातें!!

बिन सुने कुछ मैं सुनूं!!, बिन बोले कुछ तुम कहो!दो लोगों की ख़ामोशी में गूंजता हुआ संवाद हो! जी हाँ, प्यारे दोस्तों स्वागत है आप सभी का आपके अपने यूट्यूब चैनल लाइफेरिया के इस मंच…

Read More

कर्म और समर्पण | नौ दिन, नौ रातें!! और ज़रूरी नौ बातें!!

बिन समर्पण भाव के, कर्म न हो साकार!पुष्प तो हर दिन खिलें, सुरभित न हो बयार! स्वागत प्यारे दोस्तों,साथियों,लगातार साथ बने रहने के लिए! आपने कभी सोचा है प्यारे दोस्तों कि सुबह होते ही कितने सारे…

Read More

क्षमा और शांति | नौ दिन, नौ रातें!! और ज़रूरी नौ बातें!!

सुखी निर्विघ्न जीवन की हम लाख़ रखें महत्वाकांक्षा!पर बिन क्षमा के सम्भव नहीं शांति की आकांक्षा! नमस्कार प्यारे दोस्तों,एक बार पुनः स्वागत आप सभी का!आस्था ,विश्वास,धैर्य,संयम,उत्साह,उमंग और दृढ़ संकल्प के बाद आज हम पहुंच चुके…

Read More

प्रण और संकल्प | नौ दिन, नौ रातें!! और ज़रूरी नौ बातें!!

मन का घड़ा जब भरा हो संयम से!विश्वास अटूट, अडिग खड़ा हो!बड़े सपने तो सभी देखते हैं उत्साह से!क्यों न इस दफ़ा संकल्प भी बड़ा हो! नमस्कार प्यारे दोस्तों,आप सभी का बहुत बहुत स्वागत और…

Read More

उत्साह और उमंग | नौ दिन, नौ रातें!! और ज़रूरी नौ बातें!!

उत्साह और उमंग न हो तो, हो कैसे शुरुआत!बस भावों के रहने से ही,बने न मन की बात! नमस्कार प्यारे दोस्तों,स्वागत है आप सभी का आपके अपने यूट्यूब चैनल “लाइफेरिया” के इस मंच पर जहां…

Read More

धैर्य और संयम | नौ दिन, नौ रातें!! और ज़रूरी नौ बातें!!

धैर्य और संयम के बग़ैर पकने न पाए फ़सलें भी खेतों में!हमारा विचलित होना न होना, है हमीं के हाथों में!! जी हाँ! प्यारे दोस्तों ,आज हम पहुंचे हैं “नौ दिन,नौ रातें! और ज़रूरी नौ…

Read More

आस्था और विश्वास | नौ दिन, नौ रातें!! और ज़रूरी नौ बातें!!

बिन आस्था विश्वास के, बस कागज़ के फूल!न सुगन्ध न कोमलता, जमी रहे बस धूल! नमस्कार प्यारे दोस्तों,आप सभी को नौ रात्रियों की हार्दिक शुभकामनाएं!और इसी बहाने आज हम शुरू कर रहे हैं एक नई…

Read More